३१ वैशाख, एजेन्सी । नेपाल र चीनको सम्बन्ध सुमधुर बन्न थालेपछि त्यो भारतका लागि टाउको दुखाईको विषय बनेको छ ।भारतीय चर्चित मिडिया न्यूज २४ ले चीनले नेपालमा दख्खल दिदै रेल सेवा सुरु गरेको भन्दै समाचार छापेका छ ।

 उसले भारतबाट निर्भरता घटाउन र नेपाली जनताको दैनिकी आवश्यकता पुरा चीनले यस्तो कदम उठाएको लेखेको छ । समाचारमा लेखिएको छ, ‘यसरी चीनले एकतर्फ पाकिस्तान र अर्कोतर्फ नेपाललाई प्रयोग गरेर भारतसँग सम्बन्ध टुटाउन खोजेको हो ।’

दैनिक उपभोग्य सामान सँगै चीनले नेपालमा हतियार पनि सप्लाइ गर्ने आशंका बढेको भन्दै समाचारमा लेखिएको छ । अघि लेखिएको छ, ‘यसो गरेमा भविष्यमा युद्ध भयो भने त्यसको जवाफ दिनका लागि नेपाल सक्षम हुन सकोस् । चीनको यस चालले भारत सरकारलाई मुस्किल थपिदिएको छ ।’

nepal china india hatiyar weapon

पढ्नुस् समाचारको पूर्ण पाठः

चीन ने नेपाल में अपना दखल बढाते हुए रेल-सड़क सेवा शुरु कर दी है। नेपाल की जनता की रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने और भारत पर निर्भरता कम करने के लिए चीन ने यह कदम उठाया है। इस तरह से चीन ने एक तरफ नेपाल और दूसरी तरफ कश्मीर में पाकिस्तान के माध्यम से भारत पर शिकंजा कस दिया है।

चीन के पश्चिमोत्तर प्रांत लानझौऊ से 43 कोच वाली एक माल गाड़ी रवाना हुई है। इसमें लगभग 83 कंटेनेरों रोजमर्रा का सामान लदा है। यह सामान तिब्बत के शिगाजे पहुंचेगा, वहां से सड़क से नेपाल के गीलांग पहुंचेगा।

रोजमर्रा के सामान के साथ यह भी आशंका व्यक्त की तजा रही है कि चीन नेपाल को हथियार भी मुहैया करवायेगा। ताकि भविष्य में कभी युद्ध की स्थिति आये तो उसका जवाब देने के लिए नेपाल सक्षम हो सके। चीन ने अपनी इस चाल से भारत सरकार को दोतरफा मुश्किलें बढ़ा दी हैं। काठमाण्डु टुडेबाट

तपाईको प्रतिक्रिया